नागमण‌ि (Nagmani) : वृहत्ससंह‌िता में लिखी है इससे जुडी कई रोचक बातें

Myths-and-Facts-about-nagmani-in-Hindi : नागमणि को
भगवान शेषनाग धारण करते हैं। भारतीय पौराणिक और लोक कथाओं में नागमणि के
किस्से आम लोगों के बीच प्रचलित हैं। नागमणि सिर्फ नागों के पास ही होती
है। नाग इसे अपने पास इसलिए रखते हैं ताकि उसकी रोशनी के आसपास इकट्ठे हो
गए कीड़े-मकोड़ों को वह खाता रहे। हालांकि इसके अलावा भी नागों द्वारा मणि
को रखने के और भी कारण हैं। नागमणि का रहस्य आज भी अनसुलझा हुआ है। आम जनता
में यह बात प्रचलित है कि कई लोगों ने ऐसे नाग देखे हैं जिसके सिर पर मणि
थी। हालांकि पुराणों में मणिधर नाग के कई किस्से हैं। भगवान कृष्ण का भी
इसी तरह के एक नाग से सामना हुआ था।

Myths & Facts about nagmani in Hindi

Demo Pic

सर्पमण‌ि ज‌िसे नागमण‌ि भी कहते हैं यह व‌िशेष नाग के स‌िर पर स्‍थ‌ित
होती है।ज्योत‌िषशास्‍त्र के एक प्रमुख ग्रंथ वृहत्ससंह‌िता में जो उल्लेख
म‌िलता है उसके अनुसार संसार में मण‌िधारी नाग मौजूद हैं।

Myths & Facts about nagmani in Hindi

Demo Pic

चुंक‌ि ऐसे नागों का म‌िलना दुर्लभ होता है  इसल‌िए कहा जाता है
मण‌िधारी नाग नहीं होते हैं। अब सच जो भी है लेक‌िन वृहत्ससंह‌िता में
नागमण‌ि के बारे में कई रोचक बातें बताई गई हैं। जो इस बात को सोचने पर
व‌िवश करता है क‌ि क्या वास्तव में नागमण‌ि होता है। वृहत्संह‌िता में
नागमण‌ि के बारे में कई बातें कही गई हैं।
1. नागमण‌ि में इतनी चमक होती है क‌ि जहां यह होती है वहां आस-पास तेज रोशनी फैल जाती है।
2. नागमण‌ि अन्य म‌ण‌ियों से अध‌िक प्रभावशाली और अलौक‌िक होती है।नागमण‌ि मोर के कंठ के समान और अग्न‌ि के समान चमकीली द‌िखती है।
3. यह मण‌ि ज‌िसके पास होती है उस पर व‌िष का प्रभाव नहीं होता है। यह रोग से मुक्त होते हैं।
4. वराहम‌िह‌िर बताते हैं क‌ि ज‌िस राजा के पास यह मण‌ि होती है वह शत्रुओं पर व‌िजय प्राप्त करने वाले होते हैं।
5.
इनके राज्य में समय से वर्षा होती और प्रजा खुशहाल रहती है। वराहम‌िह‌िर
इस तरह की बात इसल‌िए ल‌‌िखते हैं क‌ि उन द‌िनों राजे महाराजे हुआ करते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *