विशव इतिहास के 10 सबसे भयावह भूकंप

10 Deadliest Earthquake of world History : तीव्रता के लिहाज से अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप चिली में 22 मई 1960 को आया था। रिक्टर स्केल पर 9.5 तीव्रता वाले इस भूकंप की वजह से आई सुनामी से दक्षिणी चिली, हवाई द्वीप, जापान, फिलीपींस, पूर्वी न्यूजीलैंड, दक्षिण-पूर्व ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में भयानक तबाही मची थी। कैजुअलिटी के लिहाज से दुनिया का सबसे खतरनाक भूकंप चीन में 1556 में आया था, जिसमें 8.30 लाख लोगों की मौत हुई थी।
10 Deadliest Earthquake of world History in Hindi
23 जनवरी, 1556 (सांक्सी प्रांत, चीन)
इतिहास में कैजुअलिटी के लिहाज से अब तक का सबसे खतरनाक भूकंप चीन के सांक्सी प्रांत में 23 जनवरी, 1556 को आया था। रिक्टर स्केल पर 8 तीव्रता वाले इस भूकंप से 520 मील (840 किमी.) एरिया तबाह हो गया था। इसका असर सांक्सी प्रांत की करीब 97 काउंटीज पर पड़ा था। भूकंप की वजह से भूस्खलन होने से करीब 8 लाख 30 हजार लोगों की मौत हुई थी।
28 जुलाई 1976 (तांगशान, चीन)
चीन का तांगशान शहर 7.8 तीव्रता वाले भूकंप की वजह से मिट्टी में मिल गया था। इसमें 5 लाख से अधिक लोग मारे गए थे।
22 मई, 1960 (वाल्डिविया, चिली)
चिली के वाल्डिविया में रिक्टर स्केल पर 9.5 तीव्रता वाले इस भूकंप ने भारी तबाही मचाई थी। कहते हैं कि इस भूकंप की ताकत 1 हजार एटम बम के बराबर थी। इसका असर वाल्डिविया से लेकर हवाई द्वीप तक था। इसमें 6 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी, जबकि लाखों लोग बेघर हो गए थे।
1 सितंबर 1923 (टोक्यो, जापान)
जापान की राजधानी टोक्यो में आया ग्रेट कांटो भूकंप। इसकी वजह से 142,800 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।
26 जनवरी 2001 (गुजरात, भारत)
भारत के गुजरात राज्य में रिक्टर स्केल पर 7.9 तीव्रता का एक शक्तिशाली भूकंप आया। इसमें कम से कम 30 हज़ार लोग मारे गए और क़रीब 10 लाख लोग बेघर हो गए। भुज और अहमदाबाद पर भूकंप का सबसे अधिक असर पड़ा।
31 मई, 1935 (क्वेटा, पाकिस्तान)
क्वेटा और उसके आसपास के इलाक़ों में आए ज़बरदस्त भूकंप में लगभग 35 हज़ार लोगों की जानें गईं।
8 अक्तूबर, 2005 (पाकिस्तान)
पाकिस्तान में 7.6 तीव्रता वाला भीषण भूकंप आया, जिसमें करीब 75 हज़ार लोग मारे गए। करीब 35 लाख लोग बेघर हुए थे।
26 दिसंबर, 2004, (श्रीलंका, फिलीपींस व दक्षिणी भारत)
भूकंप के कारण पैदा हुईं सुनामी लहरों ने एशिया में 2 लाख 30 हजार लोगों की जान ले ली थी। 8.9 तीव्रता वाले इस भूकंप के कारण लाखों लोग बेघर हो गए थे।
26 दिसंबर, 2003 (ईरान)
दक्षिणी ईरान में आए भूकंप में 26 हज़ार से अधिक लोगों की मौत हो गई थी।
21 जून 1990 (गिलान, ईरान)
ईरान के उत्तरी राज्य गिलान में आए भूकंप ने 40 हज़ार से भी अधिक लोगों की जान ले ली थी।
17 अगस्त 1999 (इमिट व इस्तांबुल, तुर्की)
तुर्की के इमिट और इंस्ताबुल शहरों में रिक्टर स्केल पर 7.4 तीव्रता का भूकंप आया. इस भूकंप की वजह से 17 हज़ार से अधिक लोग मारे गए और हज़ारों अन्य घायल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *